MPESB MPTET 2023 Rule Book

MPESB

MPTET 2023 Rule Book 

MP TET 2022 Exam Analysis: Check Primary Teacher Eligibility Test Question  Paper PDF, Minimum Qualifying Marks, Cutoff

भोपाल। mp govt job   –  MPESB MPTET 2023 Rule Book 

 

शिक्षक बनने का इंतजार कर रहे M.P. के अभ्यार्थियों के लिए बड़ी खबर है।

 

शिक्षा विभाग द्वारा माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (Higher Secondary Teacher Eligibility Test) के लिए एम्प्लॉइज सिलेक्शन बोर्ड (ESB) ने रूल बुक जारी कर दी है।

 

 

जिसके अनुसार अब परीक्षा में गलत उत्तर देनें पर मायनस मार्किंग करने का प्रावधान रखा गया है।

 

www.gourinstitute.in इस बार कुछ नए नियम नकल को लेकर भी आए हैं।

 

 

इन आधारों पर होगी निगेटिव मार्किंग —

रूलबुक के अनुसार अब परीक्षा में निगेटिव मार्किंग का प्रावधान किया गया।

 

जिसमें चार प्रश्नों के गलत उत्तर देने पर एक सही सवाल के जवाब का एक नंबर काटा जाएगा ।

 

आपको ज्ञात हो परीक्षा में प्रत्येक सवाल के लिए एक नंबर दिया जाएगा।

 

 

केस इस परिस्थिति में बन सकता है

इस बार नकल को लेकर कुछ नियम बदले गए हैं।

 

अभी तक आपको जानकारी होगी

 

 

कि नकल की पर्ची या कोई अन्य डिवाइस परीक्षार्थी के पास मिलने पर नकल प्रकरण बनता था।

 

 

लेकिन जिसके अनुसार यदि कोई परीक्षार्थी परीक्षा में इशारा या कानाफूसी करता है

 

या अन्य परीक्षार्थी से किसी भी तरह से कॉन्टैक्ट करता है,

 

 

तो इस कंडीशन में भी उस पर नकल का मामला (UFM) बनेगा।

 

 

इसके अलावा चिल्लाने, बोलने पर भी नकल का मामला बन सकता है।MP Vyapam- 2021-2022

 

 

 

परीक्षा फार्म भरने की तिथि–12 जनवरी 2023  

 

 

अंतिम तारीख – 27 जनवरी 2023

 

 

परीक्षा फॉर्म में संशोधन का समय या तिथि-12 जनवरी से लेकर 1 फरवरी तक2023

 

 

परीक्षा की तिथि-1 मार्च से शुरू होंगी

 

 

ऑनलाइन परीक्षाएं प्रतिदिन दो पालियों में होगी।

 

 

 

परीक्षा की वैधता आजीवन होगी-

 

मार्च2023  में होनी वाली इन शिक्षक पात्रता परीक्षाओं की वैद्यता आजीवन रहेगी।

 

 

इतना ही नहीं 2018 और इसके बाद आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए यह लागू होगी।

 

 

यानि 2018 या इसके बाद शिक्षक पात्रता परीक्षा में क्वालिफाई उम्मीद्वार को फिर से पात्रता परीक्षा देने की जरूरत नहीं होगी।

 

 

अधिक जानकारी इस लिंक पर जाकर ले सकते हैं।

 

सात पॉइंट्स के आधार पर सवाल निरस्त किए जा सकते  हैं

 

 

अगर परीक्षार्थी चाहें तो प्रश्न-पत्र के विषय में आपत्ति कर सकते हैं।

 

 

इसके लिए पहले विषय विशेषज्ञ द्वारा इसकी जांच की जाएगी।

 

 

एक्सपर्ट कमेटी की अनुशंसा के मुताबिक ऐसे निरस्त किए गए प्रश्नों के लिए मिले अंकों के अनुपात में बोर्ड अंक प्रदान करता है।

 

 

  • प्रश्न पत्र के किसी प्रश्न में इंग्लिश और हिंदी अनुवाद में भिन्नता हो, जिसके कारण दोनों के अलग अर्थ निकलते हों और सही उत्तर नहीं होता हो।

 

 

  • उत्तर के रूप में दिए गए ऑप्शन में से एक से अधिक ऑप्शन सही हों।

 

 

  • सवालों की संरचना गलत होना।

 

 

  • कोई भी विकल्प का सही न हो।

 

 

  • कोई प्रिंटिंग मिस्टेक हुई हो, जिससे सही उत्तर नहीं मिलता हो या एक से अधिक ऑप्शन सही हों।

 

 

  • अन्य कोई कारण, जिसे विषय विशेषज्ञ समिति द्वारा सही माना जाए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copy